बैंक लोन लेने के 6 आसान तरीके क्या है ?

बैक से लोन कैसे ले? क्या है  ब्याज दर? फायदे ? नुकशान?

  आज के परिवेश में हर जरूरतमंद को कर्ज लेने की जरूरत पढ़ती है अगर व्यक्ति के पास पैसे नहीं होते और से कुछ भी खरीदना होता है तो हम बैंक से लोन लेने के सुविधाजनक विकल्प की तरफ अग्रसर इत होता है|  इसके अलावा यदि व्यक्ति के वित्तीय आपदा की स्थिति में भी बैंक हमारे जीवन को आसान  बनाने में मदद करते हैं|   क्या कभी आपने इस बात पर विचार किया है कि आपको लोन प्रदान करने वाली वित्तीय संस्थान आपके लोन पर ब्याज किस प्रकार से लगाता है और इसके पीछे लोन की अर्जेंसी, चुकाने का समय  और ब्याज दर आज की भूमिका किस प्रकार से व्यवस्थित होती है| आज हम आपको बता रहे हैं की लोन लेने के सबसे 5 आसान तरीके क्या हैं तो आइए इसके बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करते हैं…...  कृपया ध्यान दें : इस पूरी जानकारी में आगे बढ़ने से पहले आइए हम यह सुनिश्चित करें कीलोन तभी लिया जाना चाहिए जब अति आवश्यक हो जाए|  व्यक्ति को लोन लेते समय इस बात का जरूर ध्यान देना चाहिए की लोन की रकम को हमेशा कम से कम रखने की कोशिश हो यदि आप लोन की रकम को यथा समय चुका नहीं पाएंगे तो कर्ज के मायाजाल में आप हंस सकते हैं|     

अपने कार्य के आधार (  एंपलॉयर) पर लोन ले 

  अधिकांश था कंपनियां वेतन के एक हिस्से को एडवांस के रूप में एंपलाई को लोन दे देती है, यह लोन आपके मासिक आय का 6 गुना हो सकता है|  इस लोन की रकम को आप अपने  वेतन से अगले 24 माह तक चुका सकते हैं|
  •  ब्याज दर:  5-8%  (कई मां पर ब्याज सोने हो जाती है)
  •  फायदे :  आप यह रकम 3 दिन में पा सकते हैं 
  •  नुकसान :  यह लो ना आप के वेतन का एक हिस्सा है,  इस प्रकार से आपको इस पर टैक्स चुकाना पड़ेगा|  यदि आप इस रकम को स्वास्थ्य सुविधाओं में खर्च करते हैं और यह 20,000 से कम है   तो इस पर सारे टैक्स पर छूट का लाभ मिल सकता है|
   

होम लोन किस प्रकार मिलता है और इसके लाभ और फायदे :

Ads


  यदि आपको होम लोन लेना है तो आप भी साल की अवधि के लिए होम लोन के रूप में ₹5000000 तक का कर्जा ले सकते हैं|  यदि आपके होम लोन की अवधि कम बची है तो उसके हिसाब से ही आपको कर्जा मिलेगा| मार्केट और टॉप अप लोन की कुल वैल्यू मकान की कीमत के 75% से अधिक नहीं हो सकती है|  
  •  ब्याज दर : 9-13%
  •  फायदे : 3 दिन में आपको या लोन मिल सकता है 
  •  नुकसान:  यदि आप लोन चुकाने में किसी भी प्रकार  किसी भी प्रकार का विरोध किया तो उसकी बड़ी कीमत चुकानी होगी|
 

पर्सनल लोन

इस प्रकार के लोन को प्राप्त करने के लिए आपको 30 मिनट से लेकर 3 दिन तक का समय लग सकता है|  यह बैंक के साथ आपके संबंधों पर पूर्णता निर्भर करता है|  यदि आपके खाते (अकाउंट) पर कोई फ्री अप्रूव पहले से (मंजूर लोन) का ऑफर चल रहा हो तो इसके बाद प्रक्रिया बहुत आसान हो जाती है| 
  • ब्याज दर:   13-24 %
  •  फायदे:  अपने बैंक से लोन लेने पर तुरंत भुगतान
  •  नुकसान:  प्रोसेसिंग फीस के रूप में दो तीन फ़ीसदी अधिकतम चार लगता है इसके अलावा आपको मासिक   जीएसटी भी चुकाना पड़ता है|  यदि लोन समय से पहले चुकाया जाए तो इसके लिए 2-3% भी चार्ज अलग से लगता है|
 

प्रॉपर्टी के बदले लोन 

Ads


   यदि आपके पास एक मकान या घर है और एक बड़ा सा लोन लेना चाहते हैं तो आप उस संपत्ति के बदले बैंक से लोन प्राप्त कर सकते हैं|  इस तरह आप 5 से 10 करोड़ तक का लोन ले सकते हैं इसमें लोन लेने की अवधि 2 से 15 साल तक हो सकती है|    बैंक आपको लोन प्रॉपर्टी के वैल्यू के 65%  तक दे सकता है|  इसके लिए जरूरी घर का बीमा करवाया गया होना चाहिए, लोन की प्रोसेसिंग फीस 1.5-2%  तक जबकि समय से पहले लोन चुकाने की फीस दो-तीन फीस दी है|  
  • ब्याज दर : 9.5-13%
  • फायदे:  कम ब्याज  पर बड़ी रकम मिलता है
  • नुकसान : लोन लेने में 3 से 10 दिन तक का समय लग सकता है
 

शेयर के बदले लोन:

  अगर आप अपने शेयर म्यूच्यूअल फंड फिक्स डिपॉजिट या बीमा पॉलिसी के बदले में लोन लेना चाहते हैं तो लोन ले सकते हैं|  म्यूच्यूअल फंड और शेयर के मामले में बैंक आपको आपके निवेश जमा की रकम के 15 % तक लोन दे देते हैं|   जहां पर फिक्स डिपाजिट के मामले में आपको निवेश की रकम का 75% तक ब्याज मिल सकता है|  
  • ब्याज दर :9-15%
  •  फायदे:  तुरंत भुगतान कम ब्याज दर 
  • नुकसान:  अगर पोर्टफोलियो की वैल्यू गिरती है तो आप को लोन देने वाले ऑर्गनाइजेशन  संस्थान  के पास ज्यादा फंड रखना पड़ेगा
 

क्रेडिट कार्ड से नकद निकासी

Ads


  आप अपने क्रेडिट कार्ड की लिमिट के 40-48 % तक की रकम को निकाल सकते हैं|  कंपनियां अनेकों बार रोज  नकदी निकासी की दर से लिमिट भी तय कर देती हैं  इसमें आपको ओवरलिमिट की फीस भी चुकानी पड़ सकती है|  
  • ब्याज दर : 2-3.5% महीने
  • फायदे:  मिनटों में नकदी निकाली जा सकती है
  • नुकसान : ट्रांजैक्शन फीस के रूप में 2-3.5%  चार्ज चुकाना पड़ता है जिस दिन से आपने रकम निकाली है ब्याज उसी दिन चालू हो जाता है|
X