Bird Flu क्या है। कैसे फैलता क्या है इसके बचाव और लक्षण जाने

Bird Flu क्या है ? Bird Flu Kya hai

हमारे देश में पहले से ही कोरोना जैसी महामारी के संक्रमण का डर था, और लोग इस महामारी से लड़ रहे थे| इस बुरे हाल में बोर्ड फ्लू जैसी एक और महामारी हमारे देश में प्रवेश कर चुकी है| क्या है? बोर्ड फ्लू इसके बारे में आज हम विस्तार से बात करेंगे, और जानेगे कि इस बीमारी से कैसे बचा जा सकता है, इसके लक्षण के भी बारे में बात करेंगे|

बर्ड फ्लू क्या है। (Bird Flu Kya Hai in Hindi)

इसे मेडिकली एवियन इन्फ्लूएंजा कहा जाता है। बोर्ड फ्लू एवियन इन्फ्लूएंजा वायरस H5N1 से फैलती है. जोकि ज्यादातर पंछियो में देखी जाती है| इस वायरस में 16 स्ट्रेन होते है, इसमें से H7N3, H7N7, H7H9, H9N2 और H5N1 प्रमुख हैं। जिसमे 16 वां स्ट्रेन ही मनुष्य को संक्रमित कर सकता है|, बाकि 15 स्ट्रेन पंछियो को ही प्रभावित करते है, ज्यादातर वायरस चिकन, टर्की, गीस, मोर और बत्तख जैसे पक्षियों में तेजी से फैलता है। यह वायरस इतना खतरनाक होता है, कि इससे इंसान और पंछी दोनों की मौत हो जाती है|

बर्ड फ्लू वायरस का नाम क्या है (Bird Flu Virus Name)

Ads


बर्ड फ्लू वायरस का नाम  एवियन इन्फ्लूएंजा (Avian Influenza) वायरस  है|

बर्ड फ्लू के लक्षण क्या है (Bird Flu ke Symptoms Kya hai)

मनुष्य जब इस वायरस के सम्पर्क में आ जाता है, तब उसमे कुछ असमान्य लक्षण देखे जाते है, जोकि निम्नप्रकार है-

  • सांस ना आना
  • सिर में दर्द रहना
  • मांसपेशियों में दर्द
  • नाक बहना
  • दस्त होना
  • हमेशा कफ रहना
  • गले में सूजन
  • उल्‍टी सा महसूस होना
  • सांस लेने में समस्या|

बर्ड फ्लू वायरस इंसान में कैसे फैलता है ? (How does the bird flu virus spread in humans)

Ads


यह एक संक्रामक वायरस है,जोकि बीमार पंछियो के सम्पर्क में आने से फैलती है, इंसानो में यह वायरस आँख, मुँह और नाक के जरिये प्रवेश करता है|

बर्ड फ्लू वायरस से कैसे बचे ? (Safety for Bird Flu Virus )

इस वायरस से बचने के लिए हमे कुछ सख्त नियमो का पालन करना होगा, तभी कही जाकर हम इस वायरस से बचे रह सकते है, जोकि इस प्रकार है-

1. पंछियो के सम्पर्क में आने से बचे

2. संक्रमित नॉन-वेज खाने से बचे

3.संक्रमित स्थान पर जाने से बचे

4. कही जाने पर मास्क का प्रयोग करे

5. मरे हुए पंछियो के सम्पर्क में बिलकुल भी न जाये

बर्ड फ्लू वायरस का इलाज (Bird Flu Virus Treatment)

Ads


डॉ के अनुसार पंछियो में पाए जाने वाले वायरस का इलाज नहीं मिला है, लेकिन इंसान के संक्रमित होने पर उसे डॉ के पास ले जाये| देर होने पर जान जाने का भी डर रहा है| इंसान में इस बीमारी का इलाज एंटीवायरल ड्रग ओसेल्टामिविर (टैमीफ्लू) (oseltamivir (Tamiflu) ) और ज़ानामिविर (रेलेएंजा) (zanamivir (Relenza)) से किया जाता है।

Leave a Comment

X