कैंपस प्लेसमेंट (Campus Placement) की तैयारी कैसे करे

कैंपस प्लेसमेंट (Campus Placement) की तैयारी

Campus Placement Preparation Tips: कम्पटीशन के इस दौर में किसी अच्छी कम्पनी में नौकरी प्राप्त करना सौभाग्य की बात है, क्योंकि किसी भी विभाग में या प्राइवेट सेक्टर में जितनें पदों पर भर्ती निकलती है उससे कई गुना अधिक लोग आवेदन करते है| वर्तमान में विभिन्न कंपनियों द्वारा आखिरी सेमेस्टर खत्म होने से पहले ही कॉलेजों में कैंपस प्लेसमेंट का आयोजन करती है। कॉलेज प्लेसमेंट में आपको मनचाही नौकरी के साथ ही सैलरी पैकेज भी अच्छा मिलता है। छात्रों के लिए यही एक ऐसा अवसर होता है, जब उन्हें आसानी से जॉब मिल जाती है, परन्तु इस दौरान छात्रों के ऊपर कॉलेज की पढ़ाई के साथ ही प्लेसमेंट इंटरव्यू को क्रैक करने का भी प्रेशर रहता है।  

कैंपस प्लेसमेंट में यदि एक बार कॉलेज से पासआउट हो गये तो जॉब सर्च करनें के लिए काफी चक्कर काटनें पड़ते है। यदि आप भी चाहते है, कि कैंपस प्लेसमेंट के दौरान ही आपको जॉब मिल जाए तो आपको इसके लिए तैयारी करना आवश्यक है। आज हम आपको कैंपस प्लेसमेंट की तैयारी से सम्बंधित कुछ टिप्स दे रहे है, जिनकी सहायता से आप अपनी मनपसंद कंपनी में नौकरी प्राप्त करनें में सफल होंगे| तो आईये जानते है, कैंपस प्लेसमेंट की तैयारी कैसे करे ?

Campus Placement Tips

कैंपस प्लेसमेंट की तैयारी कैसे करे (Campus Placement Preparation)

कैंपस प्लेसमेंट में कंपनियों के समक्ष स्वयं को बेहतर तरीके से प्रेजेंट करना सबसे ज्यादा जरूरी होता है। कैंपस प्लेसमेंट में यह आवश्यक नहीं है कि पढ़ाई में आपके नंबर कितनें है,  नंबर से अधिक आपका प्रेजेंटेशन और इंटरव्यू में आपका कांफिडेंस प्रभावी होता है| इसलिए अपनी कमियों पर विशेष रूप से ध्यान देकर उनमें सुधार करना अति आवश्यक है,   ताकि कैंपस प्लेसमेंट में आप अपनें आप को कंपनियों के अनुसार पेश कर सके। इसके लिए कुछ जरूरी टिप्स पर फोकस करना आवश्यक है|

कैंपस प्लेसमेंट हेतु आवश्यक टिप्स (Essential Tips for Campus Placement)

1.रिज्यूम (Resume)

किसी भी नौकरी को हासिल करने के लिए सबसे पहले हमें अपना रिज्यूम देना पड़ता है,  इसलिए कैंपस आने से पहले ही अपने रिज्यूम अपडेट कर ले। दरअसल आपका रिज्यूम ही आपके बारे में सब कुछ बताता है, इसलिए इंटरव्यू में जाने से पहले रिज्यूम को अच्छी तरह से चेक कर ले, इसके साथ ही इंटरव्यू में जाने से पहले रिज्यूम को पढ़कर अवश्य जाए और यह ध्यान रखे कि आपने उसमें क्या-क्या लिखा है|

2.ड्रैस कोड (Dress-Code)

इंटरव्यू में आपकी ड्रैस का एक अहम् रोल होता है, इसलिए आपको अपनी ड्रेस का ध्यान रखना जरूरी है| इंग्लिश में एक कहावत है कि ‘फर्स्ट इंप्रैशन इज द लास्ट इंप्रैशन’ इसलिए अपने ड्रैस कोड को मजाक में न लें। इंटरव्यू में जाने के लिए फॉर्मल ड्रैस ही पहनें और कोशिश करें कि आपकी शर्ट लाइट या हल्की कलर की रहे।

3.इंग्लिश पर फोकस (Focus On English)

यदि आपको इंग्लिश अच्छी है, तो कैंपस हायरिंग में इसका लाभ अवश्य मिलता है| कहनें का आशय यह है कि आपकी इंग्लिश बेहतर होनी चाहिए। इंग्लिश केवल पढ़ने या लिखने में ही नहीं बल्कि आपकी फ्लूएंसी का बेहतर होना जरूरी है। बेहतर राइटिंग और स्पीच  के लिए कैंपस गतिविधियों का इस्तेमाल कीजिए। टेक्नॉलजी के साथ सहज बनें और सीखने और प्रयोग करने के लिए इच्छाशक्ति दिखाए।

4.आपकी सोंच सकारात्मक होनी चाहिए (Positive Thinking)

कैंपस प्लेसमेंट के दौरान आपकी डिग्री के अतिरिक्त यह देखा जाता है, कि आप किसी बात को किस नजरिए से देखते है, अर्थात आपकी थिंकिंग पाजिटिव होनी चाहिए|    दरअसल डिग्री तो सभी स्टूडेंट के पास होती है, लेकिन ये जरूरी नही की पॉजिटिव एटीट्यूड भी सभी के पास हो, इसलिए कैंपस प्लेसमेंट के दौरान आपके पॉजिटिव एटीट्यूड को भी देखा जाता है।

5.आई-कॉन्टैक्ट (Eye-Contact)

किसी भी इंटरव्यू के दौरान आपका आई-कॉन्टैक्ट सबसे महत्वपूर्ण होता है । यदि आप नियोक्ता पर अपना अच्छा इंप्रैशन बनाना चाहते है, तो उनसे आई कॉन्टैक्ट बनाए, इससे आपके कॉन्फिडेंस लेवल का पता चलता है।

6.जॉब प्रोफाइल (Job Profile)

आप कैंपस प्लेसमेंट के दौरान इस बात का विशेष ध्यान रखे कि आप इंटरव्यू किस प्रोफाइल के लिए देने जा रहे है, क्योंकि इंटरव्यू में आपसे आपकी जॉब प्रोफाइल के बारे में अवश्य ही पूछा जाएगा। इसके साथ ही आप जिस कंपनी में इंटरव्यू के लिए जा रहे है, उसके बारे में भी आवश्यक जानकारी होनी चाहिए ताकि इंटरव्यू के दौरान आपसे जब कंपनी के बारे में पूछा जाएगा तो आप कंपनी के बारे में आसानी से बता पाएंगे।

7.अपनी भूमिका बढ़ाएं (Expand Your Role)

वर्तमान में प्रत्येक कम्पनी चाहती है, कि उनके इंप्लाइज वर्सेटाइल हो, अर्थात किसी एक क्षेत्र में ही नहीं बल्कि कई क्षेत्रो मे कुशल हो, इसलिए अपनी भूमिका को बढ़ाने का प्रयास करे और नई जिम्मेदारियों को उठाने वाले बने। यदि आप अपनी जॉब सिक्योरिटी चाहते है,  तो आपको हमेशा कंपनी की जरूरत बन कर रहना होगा, क्योंकि कंपनी हर इंप्लाईज की जरूरत देखती है, जरूरत है तो आप कंपनी का हिस्सा होंगे अन्यथा नहीं।

8.सोशल मीडिया पर आपकी मौजूदगी (Your Presence On Social Media

कैंपस प्लेसमेंट के लिए एक ही संस्थान में कई कम्पनियां आती है, और कोई भी कंपनियां हायरिंग में कोई जोखिम नहीं लेना चाहती। कम्पनियां जॉब ऑफर देने से पहले आपका वेरिफिकेशन किया जा सकता है, और इसके लिए सोशल मीडिया पर आपकी मौजूदगी को भी देखा जा सकता है। अपने नाम को गूगल पर सर्च कर यह देखें कि आपके बारे में क्या सार्वजनिक है। अपना लिंक्डइन प्रोफाइल बेहतर बनाएं। अपने फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया प्रोफाइल से ऐसी चीजें हटाएं जो आपके खिलाफ जा सकती हैं। आपके पुराने एंप्लॉयर और सहकर्मियों से भी आपके बारे में जानकारी प्राप्त कि जा सकती है|

Leave a Reply