रेलवे पुलिस कांस्टेबल (RPF) और सब-इंस्पेक्टर कैसे बने

रेलवे पुलिस कांस्टेबल कैसे बने

आरपीएफ यानी रेलवे प्रॉटेक्शन फोर्स एक सुरक्षा बल है। इसका मुख्य कार्य  रेलयात्रियों, यात्री इलाकों एवं भारतीय रेलवे की संपत्तियों की रक्षा करना तथा देश विरोधी गतिविधियों में रेलवे सुविधाओं के इस्तेमाल की निगरानी रखना है। रेलवे संपत्ति की सुरक्षा के साथ यात्रियों की सहायता करना ही आरपीएफ की पहचान है।आरपीएफ को दोषियों को गिरफ्तार करने, जाँच पड़ताल करने एवं अपराधियों के विरूद्ध मुकदमा चलाने का अधिकार प्राप्त होता है। यह सुरक्षा बल भारतीय रेल मंत्रालय के आधीन कार्य करता है। भारतीय रेलवे सुरक्षा हेतु रेलवे पुलिस फोर्स का गठन किया है, जिसके अंतर्गत कांस्टेबल और सब-इंस्पेक्टर का पद आता है, इन पदों आवश्यकता के अनुसार समय-समय भर्तियाँ निर्गत की जाती है| तो आईये जानते है, कि रेलवे पुलिस कांस्टेबल (RPF) और सब-इंस्पेक्टर की तैयारी कैसे करे ?

railway police me constable or sub-inspector kaise bane

रेलवे पुलिस बल कांस्टेबल पद हेतु पात्रता (Eligibility For RPF Constable)

  • आरपीएफ के अंतर्गत कांस्टेबल पद के लिए आवेदक को 10वीं / 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण होना अनिवार्य है |
  • कांस्टेबल पद हेतु आवेदन के लिए अभ्यर्थी की आयु 18 से 25 वर्ष होनी चाहिए | आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को आयु में छूट प्रदान की जाती है|

सब-इंस्पेक्टर पद हेतु पात्रता (Eligibility For Sub Inspector)

Ads


  • सब इंस्पेक्टर पद हेतु अभ्यर्थी को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक अर्थात ग्रेजुएट होना चाहिए|
  • सब इंस्पेक्टर पद हेतु अभ्यर्थी अभ्यर्थी की आयु  20 से 25 वर्ष होनी चाहिए | सरकारी नियमानुसार आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को आयु में छूट प्रदान की जाती है|

शारीरिक मानक (Physical Standard)

कॉन्स्टेबल और सब इंस्पेक्टर के लिए पुरुष कैंडिडेट के फिजिकल स्टैंडर्ड का विवरण इस प्रकार है-

कैटिगरी ऊंचाई (सेमी) छाती (बगैर फुलाए) छाती (फुली हुई)
सामान्य वर्ग/ओबीसी 165 80 85
अनुसूचित /अनुसूचित जनजाति 160 76.2 81.2
अन्य वर्ग 163 80 85
  • इस परीक्षा के अंतर्गत अभ्यर्थी को लॉन्ग जम्प 14 फिट और हाई जम्प 4 फिट
  • पुरुष अभ्यर्थियों को 1600 मीटर दौड़ अधिकतम 5 मिनट 45 सेकेण्ड में पूरी करना होता है| 

महिला कैंडिडेट्स की हाइट  

Ads


कैटिगरी ऊंचाई (सेमी)
सामान्य वर्ग/ओबीसी 157
अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति 152
अन्य वर्ग 155
  • इस परीक्षा के अंतर्गत अभ्यर्थी को लॉन्ग जम्प 9 फिट और हाई जम्प 3 फिट
  • पुरुष अभ्यर्थियों को 800 मीटर दौड़ अधिकतम 3 मिनट 40 सेकेण्ड में पूरी करना होता है| 

कांस्टेबल पद हेतु चयन प्रक्रिया (Selection Process Of Constable)

कांस्टेबल पद पर अभ्यर्थी का चयन इन परीक्षाओं के आधार पर किया जाता है, जो इस प्रकार है- 

  • फिजिकल मेजरमेंट टेस्ट (पीएमटी)
  • फिजिकल एफिशिएंसी टेस्ट (पीईटी)
  • लिखित परीक्षा
  • मौखिक परीक्षा और डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन
  • मेडिकल एग्जामिनेशन 

लिखित परीक्षा पैटर्न (Written Exam Pattern)

Ads


परीक्षा प्रकार  कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट

परीक्षा समय  90 मिनट

कुल प्रश्न  120 प्रश्न

विषय अंक
सामान्य जागरूकता 50
अंकगणित 35
रीजनिंग 35
कुल अंक 120

परीक्षा की तैयारी कैसे करे (How To Prepration For Exam)

इन दोनों पदों के लिए होने वाली परीक्षा की बेहतर तैयारी के लिए कुछ ख़ास टिप्स इस प्रकार है-

सिलेबस अच्छी तरह से समझें

Ads


किसी भी परीक्षा में सफलता प्राप्त करनें लिए पहले उसका सिलेबस अथवा एग्जाम पैटर्न के को अच्छे से समझें और उसके बाद एक स्टडी प्लान बनाएं, जिससे पढ़ाई, प्रैक्टिस और रिवीजन प्रतिदिन कर सके|  

पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल करे

रेलवे के विभिन्न पदों के लिए हुई भर्ती परीक्षाओं में पूछे गए प्रश्न आपको ज़रूर देखना  चाहिए| सिर्फ रेलवे ही नहीं बल्कि आपको अन्य सरकारी पदों के लिए होने वाली भर्ती परीक्षाएं (जिनका सिलेबस इससे मिलता जुलता हो) में पूछे गए प्रश्नों को ज़रूर तैयार करना चाहिए|

Mock Test द्वारा अधिक से अधिक अभ्यास करे 

Ads


परीक्षा में बेहतर परिणाम के लिए आपको अधिक से अधिक Mock Test देना अत्यंत आवश्यक है| Mock Test का निरंतर अभ्यास करनें आपके सफल होने की संभावनाए  बढ़ जाती है|  Mock Test देने पर और उसके बाद उनकी एनालिसिस द्वारा ही आपको अपनी गलतियों और कमजोरियों की जानकारी होगी और आपको सुधार करनें का अवसर मिलेगा, इसलिए ज़्यादा से ज़्यादा Mock Test हल करके अपनी कमज़ोरियां पहचाने और उन्हें जल्द से जल्द दूर करने का प्रयास करे|

समय का विशेष ध्यान रखे

सीबीटी अर्थात कंप्यूटर आधारित परीक्षा देते समय Time Management और Order of Attempts की भूमिका सबसे अहम् होती है| परीक्षा के दौरान किस तरह के प्रश्न पहले हल करने चाहिए और किस तरह के प्रश्न सबसे आखिर में, इन सभी बातों का ज्ञान आपको अच्छी तरह होना चाहिए| इन बातों का ध्यान रखकर आप परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन कर सकते है|

Study, Revision & Practice तीनों के बीच बैलेंस बनाए

Ads


किसी भी परीक्षा के लिए पढ़ाई के साथ-साथ रिवीजन करना अत्यंत महत्वपूर्ण होता है|   यदि आप नए टॉपिक पढ़ रहे हैं परन्तु पुराने का Revision नहीं कर रहे, तो स्वाभाविक है कि आप पुराना पढ़ा हुआ जल्द ही भूल जाएंगे और आपका परिश्रम व्यर्थ हो जायेगा| इसलिए तैयारी के दौरान आपको Study, Revision और Practice तीनों का बराबर ध्यान रख कर तैयारी करे|

Leave a Comment

X